बॉलीवुड गलियारा
समाचार

प्राइम वीडियो ने ‘मैत्री: फीमेल फर्स्ट कलेक्टिव’ का नया सेशन किया जारी

प्राइम वीडियो ने 'मैत्री: फीमेल फर्स्ट कलेक्टिव' का नया सेशन किया जारी

प्राइम वीडियो, भारत का सबसे पसंदीदा एंटरटेनमेंट डेस्टिनेशन, ने आज मैत्री: फीमेल फर्स्ट कलेक्टिव का एक नया सेशन जारी किया है। ये मीडिया और एंटरटेनमेंट से महिलाओं के लिए एक कम्यूनिटी बनाने में मदद करने की तरफ एक कोशिश है जहां वे अपने अनुभवों, चुनौतियों और सफलताओं पर बात करने के लिए एक साथ आ सकती हैं, और पॉजिटिव बदलाव लाने के तरीके पर अपना दृष्टिकोण और सलाह दे सकती हैं। इस लेटेस्ट सेशन में प्रोड्यूसर्स, डायरेक्टर्स, क्रिएटर्स, टैलेंट और कॉर्पोरेट लीडर्स सहित एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री की 9 जानी मानी वुमेन प्रोफेशनल्स नजर आएंगी जो महिलाओं के लिए इंडस्ट्री को और ज्यादा इंक्लूसिव बनाने, योगदान को पहचानने और सेफ वर्क एनवायरनमेंट बनाने पर चर्चा करती हैं।

मैत्री की क्रिएटर और क्यूरेटर, स्मृति किरण द्वारा संचालित इस सेशन में अपर्णा पुरोहित, क्रिएटर – मैत्री एंड हेड ऑफ इंडिया ओरिजिनल्स, प्राइम वीडियो, इंदु वी.एस., लेखक और निर्देशक, रथीना प्लाथोटाथिल, लेखक, निर्देशक और निर्माता, एलाहे हिपटूला, क्रिएटर और प्रोडस्यूर, पार्वती थिरुवोथु, एक्टर और निर्देशक, रीमा कलिंगल, एक्टर, निर्माता और परफॉर्मिंग आर्टिस्ट, श्रेया देव दुबे, फिल्म मेकर और सिनेमेटोग्राफर और नेहा परती मटियानी, सिनेमेटोग्राफर शामिल हैं।

प्राइम वीडियो ने बातचीत शुरू करने और मिनिंगफुल सहयोग को बढ़ावा देने के लिए मैत्री के लिए एक सोशल कम्यूनिटी भी लॉन्च की, जो एंटरटेनमेंट के फील्ड में काम कर रहीं महिलाओं की सफलताओं को साझा करने और चुनौतियों को आसानी से अनब्लॉक करने की दिशा में एक साथ काम करने में सक्षम बनाएगा। मैत्री की सोशल कम्यूनिटी देखने के लिए इंस्टाग्राम, फेसबुक, यूट्यूब पर जाए।

latest session of Maitri: Female First Collective here -link

गहन व्यक्तिगत कहानियों और अनुभवों को साझा करते हुए इस सेशन में हिस्सा लेने वाली हस्तियों ने अब तक की गई प्रोग्रेस की समीक्षा की, और इंडस्ट्री में वुमेन प्रोफेशनल्स के सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में बात की, फिर चाहे वह फिल्मों में हो, स्ट्रीमिंग में हो, या टेलीविजन में फेस किए जाने वाले कॉन्शियस और अनकॉन्शियस बायस, जेंडर स्टीरियोटाइपिंग ,सेफ्टी जैसे कई मुद्दो को उठाया। इस सेशन में मौजूद लोगों के बीच का तालमेल एक सही टोन सेट करता है क्योंकि उन्होंने मुश्किल परिस्थितियों से निपटने पर अपने विचार, राय और सीख साझा की।

Must Read कुट्टी से आवारा कुत्ते अब बाहर

हेड ऑफ इंडिया ओरिजिनल्स, प्राइम वीडियो अपर्णा पुरोहित ने कहा, “मैत्री के नए सेशन के साथ, हम इस बात का जायजा लेना चाहते थे कि हम विविधता, इक्विटी और समावेशन के संबंध में कहां खड़े हैं, आगे की चुनौतियों को समझें और सही समाधान खोजने के लिए सहयोग करें।” उन्होंने आगे कहा, “हम अब तक मैत्री: फीमेल फर्स्ट कलेक्टिव के लिए मिले प्रोत्साहन और समर्थन से बहुत खुश हैं। जबकि यह एक ग्रैजुअल जर्नी रही है, मुझे यह देखकर खुशी हो रही है कि कुछ बदलाव पहले से ही आ रहे हैं। मेरे लिए क्रिएटर्स के साथ बातचीत में ‘हमारे लेखकों के कमरे में महिला लेखक हैं’, या ‘हमारी महिला किरदारों की एजेंसी है’ और ‘हमारी कंटेंट निश्चित रूप से बेचडेल टेस्ट पास करेगी’ जैसी बातें सुनना, मेरे लिए सही दिशा में एक बड़ा कदम है। प्राइम वीडियो में, हम DEI के प्रति पूरी तरह कमिटेड हैं। अगले कदम के रूप में, हम अपने सभी प्रोडक्शन में कम से कम 30% महिला एचओडी रखने की कोशिश करना चाहते हैं।”

स्मृति किरण, क्रिएटर और क्यूरेटर, मैत्री ने कहा, “मैत्री एक ऐसी जगह है जिसे हम सभी चाहते थे लेकिन था नहीं। यह बड़ी और विविध भारतीय फिल्म उद्योग में काम करने वाली महिलाओं को जोड़ने के लिए बनाया गया है, हमारे सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में साफ बातचीत करें, कोशिश करें और उन समस्याओं का समाधान खोजें और अवसरों का निर्माण करें जो प्रतिनिधित्व में बड़े बदलाव की ओर ले जाएं। यह पहला कदम है जिससे उम्मीद की जा सकती है कि बड़ी छलांग लगेगी।”

टप्राइम वीडियो अपने कंटेंट और पेशकश के साथ-साथ क्रिएटिव कम्यूनिटी में अपने पार्टनर्स के साथ विविधता, इक्विटी और समावेशन (DEI) को बढ़ावा देने के लिए गहराई से कमिटेड है। मैत्री के साथ: फीमेल फर्स्ट कलेक्टिव, प्राइम वीडियो का मकसद एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में महिलाओं की अहम भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाना है।

Related posts