You are here
Home > बॉलीवुड ख़बरें > हिमालय की वादियों में रोमांच और रोमांस को देखेंगे फिल्म ‘द रैली’ में!

हिमालय की वादियों में रोमांच और रोमांस को देखेंगे फिल्म ‘द रैली’ में!

निर्देशक, लेखक दीपक आनंद की एक्शन से भरपूर फिल्म है ‘द रैली’। एक्शन, रोमांस के दौर में दर्शकों को कुछ नया देखने की चाहत बनी रहती है, तो रोमांस, एक्शन की चाहत के साथ-साथ आपके स्पोर्ट्स और नाटक देखने को भी मिलेगा। नई दिल्ली के पीवीआर प्लाजा में फिल्म ‘द रैली’ के प्रमोशन पर पहुंचे डाॅयरेक्टर दीपक आनंद, प्रमुख अभिनेता मिर्जा, अभिनेत्री अरशिन मेहता और निर्माता रोहित कुमार, जिन्होंने मीडिया से बातचीत करते हुए फिल्म के खास अनुभवों को लेकर बातचीत की।

दीपक आनंद ने बताया कि हमारी फिल्म ‘द रैली’ बहुत ही शानदार फिल्म है, जिसको हमने मनाली, रोहतांग के आसपास के इलाकों में फिल्माया है। इसके लिए हमने हिमालयी घाटी के सभी रास्तों को कवर किया। इसलिए हम कह सकते हैं, कि यह पहली हिमालय की वादियों में बनी अद्भुत फिल्म है। फिल्म की कहानी लव स्टोरी पर आधारित है। इसमें आपको हिमालायों की वादियों के खूबसूरत दृश्यों को देखने का आनंद मिलेगा।

दूसरी तरफ, प्रमुख अभिनेता मिर्जा ने भी अपने अभिनय की शुरुआत के अनुभवों को साझा किया, उन्होंने कहा, ‘यह मेरी पहली फिल्म है, मेरे पास ऐसा कोई खास अनुभव नहीं है, मैं सिर्फ एक कार्यशाला में लिप्त हूं। जब मैं दीपक सर से मिला, तो मुझे बहुत अच्छा लगा। तब मुझे यह एक सपना लगा, लेकिन अब यह सपना एक सच में बदल गया। मिर्जा ने कहा कि बचपन से ही मेरे अंदर अभिनय करने का मेरा सपना था। वहीं अभिनेत्री अरशिन ने उत्साहित होते हुए दीपक जी और मिर्जा के साथ काम करने को लेकर सकारात्मक विचार साझा किए और फिल्म के लिए सभी को धन्यवाद देते हुए कहा कि मैं सभी की आभारी हूं।

फिल्म ‘दा रैली’ की कहानी एक युवा व्यक्ति, कमलापति डोगरा के आसपास घूमती है, जो हिमालय रैली में भाग लेने के अपने सपने को पूरा करने के लिए किसी भी हद तक जाने के लिए तैयार है, भले ही इसके लिए उसे लोगों से धोखाधड़ी और उनको पीड़ित ही क्यों न करने पड़े। कमलापति के अनैतिक तरीके का शिकार एक बुलबुला होता है, जिसे वह एक सौदेबाजी में अपने लाभ के लिए धोखा देता है। कमलापति रैली में भाग लेते हैं और अपने तरीके से सुधार करते हैं और अपने प्रेमी को वापस पाने के लिए हर जरूरी प्रयास करते हैं। यह फिल्म दिल और मन के बीच के रिश्ते पर एक खोज है। अब सवाल यह है कि कौन जीता है और कौन हार जाता है।
निर्देशक आनंद ने बताया कि फिल्म के गानों में-मैं जो न देखंू तुझे, नईयो जीना और तेरी बहन दी कुर्ती’ दर्शकों का खासे पसंद आएंगें।

एक्सपीस स्टडीज के बैनर के अंतर्गत प्रदर्शित रैली को 8 सितंबर 2017 को सिनेमाघरों में रिलीज होने जा रही है।

Rakesh Sharma
Obsessed Social Media Activist, Bollywood Blogger, Also love to right on Social issues, Technology & Gadgets, Politics & Entertainment
Top