You are here
Home > फिल्म समीक्षा > रिव्यु – बरेली की बर्फी : मीठी चाशनी से लबालब

रिव्यु – बरेली की बर्फी : मीठी चाशनी से लबालब

जन्माष्टमी के इस मीठे महोत्सव में इस शुक्रवार सिल्वर स्क्रीन पर दस्तक दी है बरेली की बर्फी ने ।
फिल्म का निर्देशन किया है अश्विनी अय्यर तिवारी जो इससे पहले निल बट्टे सन्नाटा जैसी यादगार फिल्म बना चुकी है।
फिल्म में मुख्य भूमिका निभायी है राजकुमार राव ,आयुष्मान एवं कृति सेनन ने ।
फिल्म की कहानी लेखक निकोलस बैरु के उपन्यास इंग्रेडिएंट्स ऑफ़ लव पर आधारित है जिसके रूपांतरण में उत्तर प्रदेश की पृष्ठभूमि चुनी गयी है
कहानी की शुरुआत होती है बरेली में रहने वाली बिट्टी मिश्रा यानी कृति सेनन की जो की ब्रेक डांस में माहिर है और छुप छुप कर सिगरेट और शराब पीती है अर्थात वह आम लड़कियों की तरह व्यवहार नही करती क्योंकि उसको घर वालो ने लड़के की तरह पाला है ,उसकी मम्मी की सबसे बड़ी चिंता है बिट्टी की शादी का तय न हो पाना वही बिट्टी  को ऐसे लड़के की तलाश है जो उसे वैसे ही स्‍वीकारे जैसी वो है ।

Bareilly Ki Barfi.jpeg
इसी बीच बिट्टी को बरेली की बर्फी उपन्यास बेहद पसंद आती है, इस किताब के लेखक से उसे प्यार हो जाता है, जो असल में चिराग दुबे यानी आयुष्मान खुराना ने लिखी होती हैं लेकिन किसी वजह से प्रीतम विद्रोही यानी राजकुमार राव के नाम से प्रकाशित होती है, चिराग को बिट्टी को देखते ही प्यार हो जाता है। बिट्टी को एक बार बरेली की बर्फी के लेखक से मिलना होता है। बिट्टी की ख्वाहिश करने के लिए चिराग प्रीतम को ले आता है और चिराग ने प्रतीम को बिट्टी को डिप्रेस करने के लिए कहा है पर  होता उल्‍टा है  यहीं पर कहानी में काफी ट्विस्ट आते है। इसके आगे क्या होता है ? जैसे कि क्या बिट्टी और चिराग मिल पाते हैं या नहीं? इसको जानने के लिये आपको फिल्म को देखना होगा ।
इंटरवल तक फिल्म बेहद उत्साहित करती है पर इंटरवल के बाद काफी लंबी खींची गयी है जिसका मुख्यतः कारण इसकी रफ़्तार धीमी होना है ।फिल्म की सबसे बड़ी खासियत इसकी कहानी है जो की काफी रोचक है पर बीच बीच में साजन फिल्म की याद दिला देती है ।फिल्म में लीड और सपॉर्टिंग कलाकारों की हरकतें हर बार आपको  हंसने पर मजबूर कर देंगी ,राजकुमार की अदायगी इसको एक नए मुकाम पर ले जाती है खासकर उनका साड़ी वाला सीन हो या हैप्पी बर्थडे.. जब भी हो ,जैसे डायलाग के दौरान ।जबकि आयुष्मान खुराना ने भी संजीदा अभिनय किया है ,कृति सेनन ने पहली बार अपने अभिनय से चौकाया है उन्होंने बिट्टी के किरदार को जीवंत कर दिया है वही पंकज त्रिपाठी ने हमेशा की तरह लोगो को हंसाया है।
फिल्म का म्यूजिक अर्को प्रावो मुखर्जी, तनिष्क , समीर कोप्पिकर, समीरुद्दीन और वायु ने दिया है ‘ट्विस्ट कमरिया’ गाना अच्छा है पर जिस्म 2 फेम अर्को द्वारा
‘नज्म नज्म’ गाने को तक़रीबन हरेक वर्ग के दर्शकों ने पसंद किया है
इस मिठाई के सीजन में आप इस बर्फी को चख सकते हो अर्थात यह आपको 2 घण्टे तक मीठी चासनी में डुबाये रखेगी ,मैं बरेली की बर्फी को पांच में से साढ़े तीन स्टार देता हूँ ।

ऑफिसियल ट्रेलर बरेली की बर्फी 

Mudit Bansal
Engineer By Education| Lyricist | Critic| Author | Art in Heart |
Top