You are here
Home > बॉलीवुड ख़बरें > पीवीआर ने रहमान के साथ उनकी पहली निर्देशित फिल्म ‘ले मस्क’ के लिए किया करार

पीवीआर ने रहमान के साथ उनकी पहली निर्देशित फिल्म ‘ले मस्क’ के लिए किया करार

पीवीआर सिनेमा ने अकादमी पुरस्कार प्राप्त और भारत के मोजार्ट नाम से मशहूर संगीतकार एआर रहमान के साथ उनकी पहली निर्देशित वाईएम मूवीज़ (वीआर) मल्टीसेन्सरी एपिसोडिक फीचर फिल्म ‘ले मस्क’ के लिए करार किया है। महत्वपूर्ण है कि इसी फिल्म के जरिये निर्देशन के क्षेत्र में कदम रखने वाले रहमान की फिल्म ‘ले मस्क’ शुक्रवार को भारत में रिलीज हो गई। ‘ले मस्क’ का फिल्मांकन रोम में किया गया है, जिसमें एक अनाथ बच्ची जुलियट की कहानी बयां की गई है। एक रहस्यमयी खुशबू हमेशा उसके साथ रहती है। एक दिन एक गुमनाम संदेश जुलियट के नाम आता है और यहीं से उसकी जिंदगी में नाटकीय मोड़ आ जाता है। फिल्म में मुख्य भूमिका फ्रांसीसी अभिनेत्री नोरा आर्नेजेदेर ने निभाई है। खास बात यह है कि इस फिल्मल का निर्देशन ही नहीं, बल्कि इसकी कहानी भी खुद रहमान की ही है।
रहमान की बतौर निर्देशक इस पहली फिल्म में विश्व का पहला सिनेमैटिक वर्चुअल रिएलिटी इमरसिव नेरेटिव भी है। अमेरिका के लास वेगास में दिखाए जाने के बाद अब शुक्रवार 5 मई को नोएडा के मॉल आफ इंडिया में पीवीआर ईसीएक्स के पीवीआर वीआर लाउंज में इसका प्रदर्शन किया गया। इस अवसर पर एआर रहमान भी वहां मौजूद थे। इस फ़िल्म में नोरा अर्नेज्द र, गे बर्न, मुनीरह जहानपौर और मरियम जोहराबिया मुख्य भूमिका में हैं।
इस मौके पर पीवीआर लिमिटेड के सीईओ गौतम दत्ता ने कहा, ‘रहमान के पहले निर्देशित प्रोजेक्ट के लिए वाईम मूवी के साथ साझेदारी करने के लिए हम बहुत गर्व महसूस कर रहे हैं। चूंकि यह फिल्म दुनिया का पहला वीआर इमर्सिव हाइलाइटिंग अनुभव होगा, इसलिए हम शुद्ध मनोरंजन की असीम संभावनाएं लाने के लिए बेहद विशेषाधिकार प्राप्त कर चुके हैं। भारत में इस तरह के वी.आर. सिनेमाई फिल्में जारी होने के साथ, पीवीआर उच्चतम प्रौद्योगिकी के साथ डिजिटल दुनिया में पूरी समर्पण प्रदान करने और दर्शकों की फिल्मी भूख को तृप्त करने का वादा करता है।’ जबकि संगीतकार से फिल्म निर्देशक बने ए.आर. रहमान ने कहा कि हम ‘ले मस्क’ के भारत के प्रस्ताव के लिए पीवीआर सिनेमा के साथ साझेदारी करने के लिए प्रसन्न हैं। भारत में इस अनूठी फिल्म वितरण को लाने के लिए पीवीआर की तुलना में कोई बेहतर प्लेटफॉर्म नहीं था। यह फिल्म एक मल्टीसिंसरी और स्टीरियोस्कॉमिक अनुभव है। मुझे आशा है कि फिल्म दर्शकों को पसंद आएगी और उनको उत्साहित भी करेगी।’

Rakesh Sharma
Obsessed Social Media Activist, Bollywood Blogger, Also love to right on Social issues, Technology & Gadgets, Politics & Entertainment
Top