You are here
Home > बॉलीवुड ख़बरें > निःशक्त आयकर आयुक्त के संघर्षपूर्ण जीवन की कहानी है फिल्म ‘अजब सिंह की गजब कहानी’

निःशक्त आयकर आयुक्त के संघर्षपूर्ण जीवन की कहानी है फिल्म ‘अजब सिंह की गजब कहानी’

निःशक्त आयकर आयुक्त के संघर्षपूर्ण जीवन की कहानी है फिल्म ‘अजब सिंह की गजब कहानी’

‘अजब सिंह की गजब कहानी’… जी हां, यही है श्री त्रिवेणी फिल्म्स इंटरनेशनल के बैनर तले बनी फिल्म का नाम, जिसके प्रमोशन के सिलसिले में इसके कलाकार आईआरएस अजय सिंह, गोविंद नामदेव, यशपाल शर्मा राइटर-डायरेक्टर ऋषि मिश्रा एवं प्रोड्यूसर बिनोद कुमार के साथ दिल्ली पहुंचे।

छरअसल, यह फिल्म जमशेदपुर के निःशक्त आयकर आयुक्त अजय सिंह के संघर्षपूर्ण जीवन से जुड़ी सच्ची कहानी पर आधारित है। इस फिल्म में यह दर्शाया गया है कि कैसे गरीबी और विकलांगता से लड़ते-लड़ते अजय सिंह भारतीय राजस्व सेवा के बड़े अधिकारी बने और वर्तमान सिस्टम में अपनी ईमानदारी के बल पर एक मिसाल कायम की। इतना ही नहीं, फिल्म में किसानों की मूल समस्या के साथ भ्रष्टाचार से लड़ने की कथा भी बुनी गई है, जबकि फिल्म के जरिये युवाओं को देशभक्ति के लिए प्रेरित भी किया जाएगा। साथ ही फिल्म से राष्ट्रभाषा हिंदी को सम्मान देने और हर स्तर पर इसके इस्तेमाल का संदेश दिया जाएगा। ऐसे में कह सकते हैं कि यह फिल्म दो कहानियों का मेल है। अजय सिंह खुद इस फिल्म में हीरो की भूमिका में हैं और देश के इतिहास में यह शायद पहली बार हो रहा है, जब अपनी ही बायोपिक में असली नायक काम कर रहा है और इसके लिए बाकायदा देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से खास इजाजत ली गई है। जबकि, फिल्म की नायिका हैं यासिका बसेरा। अपनी फिल्म के बारे में अजय सिंह कहते हैं कि यह एक संदेशमूलक फिल्म है, जो समाज के बदलाव में सहायक साबित होगी। उन्होंने कहा कि आयकर ही भारत का वेतन है और यह फिल्म युवाओं को बताएगी कि हमें कर-चोरी करके देश की आर्थिक स्थिति को कमजोर कभी नहीं करनी चाहिए।

फिल्म में अहम भूमिका निभा रहे यशपाल शर्मा का कहना है कि अजय सिंह रियल लाइफ हीरो हैं। उनके साथ काम करके बहुत मजा आया। यशपाल शर्मा ने कहा कि फिल्म में मैं उन्हें अपने एक काम कर देने के ऐवज में मोटी रकम का प्रलोभन देता हूं, लेकिन वह इनकार कर देते हैं। यह सीन अजय सिंह के वास्तविक जीवन की ही एक सच्ची घटना से प्रेरित होकर फिल्म में डाला गया है। उन्होंने ऐसे कई प्रलोभनों को ठेंगा दिखा कर अपनी ईमानदारी का परिचय दिया है। वाकई अजय सिंह हर किसी के लिए एक पे्ररणास्त्रोत हैं। जबकि, ‘अजब सिंह की गजब कहानी’ के डायरेक्टर ऋषि मिश्रा अपनी फिल्म के कंप्जीट हो जाने पर काफी आह्लादित दिखे। उन्होंने कहा कि इस फिल्म के निर्माण में झारखंड सरकार ने काफी सहयोगी भूमिका निभाया है। सुरक्षा मुहैया कराने के साथ डीसी आॅफिस, थाना जैसे कई स्थानों पर शूटिंग करने में सहयोग भी किया है।

Rakesh Sharma
Obsessed Social Media Activist, Bollywood Blogger, Also love to right on Social issues, Technology & Gadgets, Politics & Entertainment
Top